कोविड-19 से बचाव, रोकथाम और प्रबंधन में पंचायत और स्वयं सहायता समूह की भूमिका

0
312
382 Views



कोविड-19 से बचाव, रोकथाम और प्रबंधन में पंचायत और स्वयं सहायता समूह की भूमिका


संभागवार ऑनलाइन प्रशिक्षण
 


भोपाल : शनिवार, जुलाई 25, 2020, 19:40 IST

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा कोविड-19 से बचाव, रोकथाम और प्रबंधन में पंचायतों और समुदाय की भूमिका को लेकर राज्य व्यापी ऑनलाइन प्रशिक्षण आयोजित किया जा है। इस प्रशिक्षण में प्रदेश में समस्त जिलों की 313 जनपद पंचायतों की 22,812 ग्राम पंचायतें सीधे इसका लाभ लें रही है। प्रशिक्षण की यहक श्रंखला संभागवार 21 जुलाई से प्रारंभ किया गया है जो की 7 अगस्त 2020 तक चलेगा। अभी तक के प्रशिक्षण में 19जिलों एवं 115 जनपदों के 7883 पंचायते प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी है। प्रशिक्षण को युट्यूब पर भी सीधे प्रसारित किया जा रहा है। ग्राम पंचायतों में NICVdyodestop एवं webcast के माध्यम से 78830 प्रतिभागी जुड़ कर इन प्रशिक्षणों को लाभ प्राप्त चुके हैं।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि प्रशिक्षण में कुल आठ तकनीकी सत्र सम्मिलित है जिसमे विशेष रूप से कोरोना के नियंत्रण में पंचायतो की भूमिका, बचाव और रोकथाम के उपाय, क्वारंटाइन सेंटर के संचालन के तकनीकी पहलू, केंद्र एवं राज्यों द्वारा संचालित राहत कार्यों एवं सामजिक सुरक्षा योजनाओ में पंचायतों, महिला समूहों तथा समुदाय आधारित संगठनो की भूमिका, सार्वजनिक सेवाओं की बहाली एवं निरंतरता तथा कोविड रेस्पोंसिव “ग्राम पंचायत विकास कार्य योजना” के निर्माण एवं क्रियान्वयन सम्बन्धी जानकारी प्रदान की जा रही है। प्रशिक्षण सत्र के आखिर में प्रतिभागियों से विशेषज्ञों की चर्चा भी हो रही है, जिसमें पंचायत और ग्रामो से सीधे प्रतिनिधि, महिला समूह राज्य स्तरीय विशेषज्ञों से जुड़ कर अपनी प्रतिक्रिया और सुझाव दे रहे है। साथ ही फीडबैक फॉर्म के माध्यम से जानकारी भी एकत्रित की जा रही है।

पंचायत राज संचालक श्री बी.एस. जामोद ने बताया कि राष्ट्रीय ग्राम स्वराज योजना के अंतर्गत ऑनलाइन प्रशिक्षण के लिये तकनीकी सुविधाए एवं आवश्यक अधोसंरचनाओं की व्यवस्था की गयी है। प्रशिक्षण में UNICEF, TRIF एवं समर्थन संस्थाओं द्वारा सहयोग दिया जा है। इन प्रशिक्षणों के माध्यम से ग्राम पंचायतों तक विषय-विशेषज्ञों द्वारा तकनीकी जानकारी पहुंचाई जा रही है।

निर्धारित प्रशिक्षण कैलेंडर अनुसार प्रतिभागी जिलो में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत और समस्त पंचायत अधिकारी, आजीविका मिशन के अधिकारी और जनपद और पंचायतों के प्रतिनिधियों द्वारा भाग किया जा रहा है। साथ ही ग्राम पंचायत स्तर पर प्रतिभागियों को ऑनलाइन प्रशिक्षण से जुड़ने में सहयोग किया जा रहा है।


आरएस मीणा



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here