क्या सच मे किसानों की आय 2022 में दोगुनी हो जाएगी?

0
262
372 Views

बीते 28 फरवरी को किसानों की आय दोगुना करने के वादे का चौथा साल पूरा हुआ। 28 फरवरी 2016 को ही पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के बरेली में एक किसान रैली को संबोधित करते हुए आधिकारिक तौर पर घोषणा की थी कि आने वाले 2022 में जब देश अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा होगा, तो किसानों की आय दोगुनी हो चुकी होगी।

इस हिसाब से इस वादे को किए 4 वर्ष पूरा हो चुका है। देश की कृषि और देश का किसान आज भी टकटकी लगाए अपने हाथ में आए पैसों को देख रहा है. अब तो सरकार उसे यह बता दे कि उसकी आय की स्थिति क्या है? क्या सच में किसानों की आय बढ़ रही है? यदि बढ़ रही है तो किस दर से बढ़ रही है? और क्या यह संभव है कि वर्तमान कृषि विकास दर पर किसानों की आय दोगुना हो सकती है? क्या सुस्ती देख रही भारतीय अर्थव्यवस्था के बीच इस महत्वाकांक्षी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है? ऐसे तमाम सवाल हैं जो आज कहीं अधिक प्रासंगिक हो चुके हैं। इस पूरे वादे की हकीकत जानने से पहले आपको एक तथ्य बहुत स्पष्ट अपने दिमाग में रखना चाहिए कि सरकार के पास किसानों की आय में बढ़ोतरी या इससे संबंधित कोई स्पष्ट आंकड़े मौजूद नहीं हैं।
कुछ आंकड़े हमारे पास मौजूद हैं, उनमें कृषि की वृद्धि दर, फसलों के दामों में हुई वृद्धि और किसानों की आत्महत्याओं से संबंधित आंकड़े है। इस लक्ष्य के प्रति सरकार की गंभीरता को समझने के लिए हम कुछ योजनाओं को भी संज्ञान में ले सकते है। इसमें कहीं भी दो राय नहीं है कि वर्तमान सरकार ने किसानों के हित में योजनाओं का एलान किया है और उन्हें लागू करने की भी पूरी कोशिश की है।
मोदी सरकार की पूरी बुनियाद ही नई-नई योजनाओं के इवेंट मैनेजमेंट पर टिकी हुई है, लेकिन इन तमाम वादों और प्रयासों के बीच में किसानों की स्थिति में हाल-फिलहाल में कोई सुधार नहीं दिखता है।

तो, अब भी यही प्रश्न है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कैसे होगी? क्या वर्तमान स्थिति में यह सम्भव है? वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को कुछ विशेषज्ञों द्वारा भी अनुचित और अवास्तविक करार दिया गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here