क्राइम ब्रांच के सामने हाजिर नहीं हुआ आशीष मिश्रा, नेपाल में छिपे होने की आशंका

0
105
152 Views

लखीमपुर हिंसा मामले में मुख्‍य आरोपी आशीष मिश्रा घर पर नोटिस चस्‍पा होने के बावजूद आज क्राइम ब्रांच के सामने हाजिर नहीं हुआ। क्राइम ब्रांच ने सुबह 10 बजे उसे पूछताछ के लिए बुलाया था। इस बीच मीडिया रिपोर्टस में आशीष के लखीमपुर से लगे नेपाल के सीमावर्ती इलाके में छिपे होने की आशंका जताई जा रही है। 

सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि आशीष नेपाल सीमा के आसपास कहीं छिपा हो सकता है। दरअसल, कल सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस मामले में जवाब-तलब किए जाने के बाद से यूपी पुलिस आशीष के मामले सक्रिय नज़र आने लगी। पुलिस, आशीष के घर भी गई। वह घर पर नहीं मिला तो पुलिस ने घर के गेट पर उसे शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक हाजिर होने का नोटिस चस्‍पा कर दिया। पुलिस की अलग-अलग टीमें आशीष की तलाश में जुटी हैं। बताया जा रहा है पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

लखनऊ जोन की आईजी लक्ष्‍मी सिंह ने भी कहा कि आशीष से इस मामले में पूछताछ करनी आवश्‍यक है। उसकी तलाश की जा रही है। उधर, विपक्ष सवाल उठा रहा है कि आखिल पांच दिन पहले हुई घटना में आशीष को अब तक गिरफ्तार क्‍यों नहीं किया गया था? विपक्ष का आरोप है कि इस पूरे मामले में पुलिस शुरू से केंद्रीय गृहराज्‍य मंत्री के बेटे को बचाने में जुटी है। लखीमपुर हिंसा में चार किसान, पत्रकार और भाजपा कार्यकर्ता समेत कुल आठ मौतों के बावजूद पुलिस ने चार दिन तक आशीष से पूछताछ करने तक की जरूरत नहीं समझी। पुलिस एक्टिव तब हुई जब सुप्रीम कोर्ट ने मामले का स्‍वत: संज्ञान ले लिया और गुरुवार को सरकार से स्‍टेटस रिपोर्ट मांग ली। शुक्रवार को यूपी सरकार को सुप्रीम कोर्ट में बताना है कि उसने अब तक क्‍या कार्रवाई की, इसलिए आनन-फानन में कुछ सक्रियता दिखाई जा रही है।

गौरतलब है कि पुलिस ने कल आशीष पांडेय और लवकुश नामक दो लोगों को हिरासत में लिया था जिनपर आरोप है कि वे उस फार्रच्‍यूनर गाड़ी में सवार थे जो किसानों को रौंदने वाली थार जीप के पीछे-पीछे चल रही थी। 

सुप्रीम कोर्ट में आज भी सुनवाई

लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज भी सुनवाई होनी है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार आज यूपी सरकार को मामले की स्‍टेटस रिपोर्ट वहां पेश करनी है। 

अखिलेश यादव बहराइच में 

उधर, सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव पीड़ित किसान परिवार से मिलने आज बहराइच पहुंच रहे हैं। कल उन्‍होंने लखीमपुर जाकर पीड़ित किसान परिवारों से मुलाकात की थी। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here