जरूरी नहीं कि आपको Windows 10 का अपग्रेड 29 जुलाई को ही मिले

0
161
195 Views


माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) का विंडोज 10 (Windows 10) ऑपरेटिंग सिस्टम 29 जुलाई को लॉन्च हो जाएगा। लेकिन, यह जरूरी नहीं है कि आप उसी दिन नए ऑपरेटिंग सिस्टम को डाउनलोड कर सकें। Microsoft ने पिछले हफ्ते एक ब्लॉग के जरिए Windows 10 के रोलआउट को लेकर खुलासा किया था। रोल-आउट फेज़ में होगा, जिसकी शुरुआत Windows के इंसाइडर प्रोग्राम के यूज़र्स से होगी।  Microsoft के ऑपरेटिंग सिस्टम के एक्जिक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट टैरी मायरसन ने बताया कि Windows 10 का रोलआउट फेज़ में होगा।

मायरसन ने कहा, “हम चाहते हैं कि हर कंज्यूमर के अपग्रेड का अनुभव बेहतरीन रहे। इसलिए हम Windows 10 को फेज़ में रोलआउट करेंगे ताकि डिमांड को मैनेज किया जा सके।”

29 जुलाई को ऑपरेटिंग सिस्टम का लेटेस्ट वर्ज़न विंडोज इंसाइडर प्रोग्राम के मेंबर के लिए सबसे पहले उपलब्ध होगा। कंपनी का कहना है कि जिन यूज़र ने अपग्रेड के लिए रजिस्टर किया है, उन्हें डाउनलोड की जानकारी धीरे-धीरे दी जाएगी। Microsoft का कहना है कि अपग्रेड की प्रक्रिया रोलआउट परफॉर्मेंस पर निर्भर करेगी।

मायरसन ने कहा, ”29 जुलाई से शुरुआत करते हुए हम सबसे पहले विंडोज इंसाइडर प्रोग्राम के सदस्यों के लिए Windows 10 उपलब्ध कराएंगे। इसके बाद जिन यूज़र ने रजिस्टर किया है, उनके लिए फेज़ के आधार पर लेटेस्ट वर्ज़न उपलब्ध कराया जाएगा। इस प्रक्रिया में 29 जुलाई के बाद तेजी लाई जाएगी। रोलआउट के दौरान हम हर दिन Windows 10 के यूज़र्स के उनके अनुभव को साझा करते रहेंगे।”

अगर किसी यूज़र ने Window 10 की कॉपी रिज़र्व की है, तो सिस्टम की कंपेटिब्लिटी जांचने और सिस्टम पर नया ओएस डाउनलोड करने के बाद Microsoft यूज़र को नोटिफाई करेगा। अगर किसी कारण से सिस्टम Windows 10 अपग्रेड के लिए उपयुक्त नहीं है, तो Microsoft यूज़र को अपग्रेड के लिए जरूरी मानकों को बारे में बताएगा।

मायरसन ने यह भी खुलासा किया कि जिन बिजनेस हाउस ने Windows 10 Enterprise और Windows 10 Education के लिए रजिस्टर किया है, उन्हें थोड़ा और इंतजार करना होगा। ये वर्ज़न 1 अगस्त से रोलआउट किए जाएंगे।



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here