तुर्की ने इजरायल के खिलाफ मुस्लिम देशों से की एकता की अपील, कहा- प्रस्ताव बहुत पारित हो चुके

0
201
318 Views

इजरायल और हमास के बीच छिड़ी जंग ने पूरी दुनिया में ही हलचल पैदा कर दी है। एक तरफ अमेरिका ने कहा है कि इजरायल को अपनी रक्षा करने का पूरा हक है तो अब तुर्की ने मुस्लिम देशों से एकता की अपील की है। तुर्की ने मुस्लिम देशों से अपील की है कि हमें इजरायल के खिलाफ एक स्पष्ट फैसला लेना चाहिए। तुर्की के उपराष्ट्रपति फुआत ओक्ते ने गुरुवार को वैश्विक शक्तियों की निंदा करते हुए कहा कि उनकी ओर से इजरायल के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया जा रहा है, सिर्फ हिंसा की निंदा ही की जा रही है। 

मीडिया से बात करते हुए ओक्ते ने कहा कि हम यह चाहते हैं कि कुछ कदम उठाए जाएं। ईद के मौके पर मीडिया से बात करते हुए तुर्की के नेता ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में कई बार फैसले लिए जा चुके हैं और निंदा प्रस्ताव पारित हुए हैं। लेकिन दुर्भाग्य से कोई नतीजा नहीं निकल सका है। इसकी वजह यह है कि कोई स्पष्ट फैसला नहीं लिया जा सका। बीते कुछ दिनों में हमास ने इजरायल के कई शहरों में रॉकेट्स के जरिए हमले किए हैं। वहीं इसके जवाब में इजरायल ने भी गजा पट्टी में जबरदस्त एयर स्ट्राइक्स की हैं। इस हिंसा में अब तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

गजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इजरायली हमलों में 67 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा इजरायल के भी 7 लोगों की मौत हुई है। हमास और इजरायल के बीच छिड़ी जंग ने एक बार फिर से 2014 के उस दौर की याद दिला दी है, जब दोनों के बीच संघर्ष अपने चरम पर था। इस बीच अमेरिका, ब्रिटेन समेत दुनिया के कई देशों ने शांति की अपील की है। वहीं तुर्की, ईरान समेत कई मुस्लिम देशों ने इजरायल पर निशाना साधते हुए कहा है कि इस्लामी जगत को एकजुटता दिखानी चाहिए। ईरान के शीर्ष नेता अयातुल्लाह अली खामनेई ने पिछले दिनों कहा था कि इजरायल के खिलाफ सभी मुस्लिम देशों को एकजुट होकर एक्शन लेना चाहिए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here