पीएनबी को तीसरी तिमाही में 506 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

0
299
371 Views

सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) का एकल आधार पर शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 506.03 करोड़ रुपये रहा। फंसे कर्ज में कमी से बैंक का लाभ बढ़ा है। इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में बैंक को 492.28 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। पीएनबी ने शुक्रवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बैंक की कुल आय आलोच्य तिमाही में बढ़कर 23,298.53 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की तीसरी तिमाही मे 15,967.49 करोड़ रुपये था।

पिछले साल हुआ था 501.93 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा

एकीकृत आधार पर बैंक का लाभ 2020-21 की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में 585.77 करोड़ रुपये रहा। इससे पूर्व वित्त वर्ष की इसी तिमाही में बैंक को शुद्ध रूप से 501.93 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था।  एकीकृत आय आलोच्य तिमाही में 23,639.41 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 16,211.24 करोड़ रुपये थी।

हालांकि पीएनबी ने कहा कि ताजा परिणाम की तुलना 2019-20 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही से नहीं की जा सकती, क्योंकि उस समय के आंकड़े विलय के पूर्व के थे।  एक अप्रैल, 2020 से पीएनबी में यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स का विलय प्रभाव में आया। पीएनबी की संपत्ति गुणवत्ता बेहतर हुई है। बैंक का कुल फंसा कर्ज (एनपीए) दिसंबर, 2020 को समाप्त तिमाही में सकल कर्ज का 12.99 प्रतिशत रहा, जो एक साल पहले इसी तिमाही में 16.30 प्रतिशत था। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here