Home विविध प्याजों के निर्यात होंगे 15 मार्च से ,सरकार ने दी अनुमति

प्याजों के निर्यात होंगे 15 मार्च से ,सरकार ने दी अनुमति

0
181
255 Views

सरकार ने प्याज के निर्यात पर लगी पाबंदी हटाने का निर्णय किया है। कीमतों में सुधार और आपूर्ति बेहतर होने से उसने सोमवार को कहा कि 15 मार्च से प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर कोई रोक नहीं होगी। इसके निर्यात पर करीब छह महीने से पाबंदी है।

विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने प्याज पर न्यूनतम निर्यात मूल्य (एमईपी) भी हटाने का फैसला किया है। डीजीएफटी ने एक अधिसूचना में कहा, ”प्याज की सभी किस्मों का निर्यात 15 मार्च से खुल जाएगा। इसमें साख पत्र या न्यूनतम निर्यात मूल्य जैसी कोई शर्तें नहीं होंगी।”
महाराष्ट्र के नासिक जिले के कई हिस्सों में प्याज के घटते दाम को लेकर किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। अधिकारियों के अनुसार सोमवार को लासलगांव में प्याज का औसत मूल्य 1,450 रुपये प्रति क्विंटल था। लासलगांव देश में प्याज की सबसे बड़ी मंडी है।
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इस निर्णय से किसानों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी। सरकार ने पिछले सप्ताह करीब छह महीने से प्याज के निर्यात पर जारी पाबंदी को हटाने का निर्णय किया। इसका कारण रबी फसल अच्छी रहने से कीमतों में तीव्र गिरावट की आशंका है। सब्जी की कीमत में तीव्र वृद्धि को देखते हुए निर्यात पर पाबंदी लगायी गयी थी। अब प्याज का दाम स्थिर हो गया है और फसल भी अच्छी होने की उम्मीद है।
खाद्य मंत्री राम विलास पासवान ने बुधवार को ट्विटर पर लिखा था कि मार्च में फसल की आवक 40 लाख टन से अधिक रह सकती है जो पिछले साल 28.4 लाख टन थी। सरकार ने सितंबर 2019 में प्याज के निर्यात पर पाबंदी लगायी थी और 850 डॉलर प्रति टन का न्यूनतम निर्यात मूल्य (एमईपी) भी लगाया था। आपूर्ति-मांग में अंतर के कारण प्याज की कीमत आसमान को छूने के बीच यह कदम उठाया गया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: