प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रिमियमो में बदलाव होने के आसार

0
189
263 Views

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रीमियम में बदलाव हो सकता है। केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में योजना में बदलाव के प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद इसके प्रीमियम में संशोधन हो सकता है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2.0 में कई बड़े बदलाव किये हैं। योजना को किसानों के लिये वैकल्पिक बनाने का फैसला किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फरवरी 2016 में इस योजना की शुरुआत की थी। कर्ज लेने वाले किसानों के लिये यह अनिवार्य था कि वह फसल बीमा योजना के तहत बीमा कवर ले। वर्तमान में देश में कुल 58 फीसदी किसानों ने कर्ज लिया है। सरकारी स्वामित्व वाली इस फसल बीमा कंपनी के अधिकारी ने हालांकि यह नहीं बताया कि बीमा प्रीमियम में वृद्धि होगी अथवा नहीं। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि कुछ खास तरह के जोखिम कवर के लिये इसमें वृद्धि हो सकती है।

बीमा कंपनी के एक अन्य अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ”अब जबकि फसल बीमा को कृषि कर्ज लेने वाले और बिना कर्ज वाले किसानों दोनों के लिये वैकल्पिक बनाया जा रहा है। ऐसे में बीमा कवर के तहत आने वाले किसानों की संख्या कम हो सकती है, यदि ऐसा होता है तो कंपनी के लिये गारंटी देने की लागत बढ़ सकती है।’ पोद्दार ने कहा कि मौजूदा योजना में फसल बीमा के तहत पांच शर्तें हैं। लेकिन नई योजना में कोई भी जोखिम कवर को अपनी जरूरत के मुताबिक चुन सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here