प्रशासन की संवेदनशीलता से बची वरूण की जान

0
210
268 Views


कहानी सच्ची है


प्रशासन की संवेदनशीलता से बची वरूण की जान


 


भोपाल : सोमवार, अप्रैल 20, 2020, 18:00 IST

कोरोना संकट के इस दौर में राघौगढ़ में थैलीसीमिया बीमारी से ग्रस्त 14 वर्षीय वरूण चौकसे को अचानक रक्त की जरूरत हुई। वरूण को तत्काल रक्त न चढ़ाए जाने पर उसकी जान को खतरा हो सकता था।

वरूण के पिता राधामोहन चौकसे ने राघोगढ़ के अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) से गुहार लगाई। इस अधिकारी ने तुरंत गुना कलेक्टर श्री एस. विश्वनाथन को स्थिति से अवगत कराया। श्री विश्वनाथन ने तुरंत एबी ग्रुप के रक्त की व्यवस्था कराई और गुना जिला अस्पताल में वरूण को ब्लड चढ़ाए जाने का इंतजाम किया। अब वरुण ठीक है।

विकट परिस्थिति के बीच गुना जिला प्रशासन की मानवीय पहल की सर्वत्र सराहना की जा रही है।


नीरज शर्मा



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here