फतेहगढ़ थाना क्षेत्रांतर्गत दो पक्षों में वनभूमि में कब्जे को लेकर हुआ विवाद

0
229
297 Views



फतेहगढ़ थाना क्षेत्रांतर्गत दो पक्षों में वनभूमि में कब्जे को लेकर हुआ विवाद


कलेक्टर एवं एसपी मौके पर पहुंचे
अब शांति, दोनों पक्षों के विरूद्ध दर्ज हुई प्राथमिकी
 


भोपाल : रविवार, जुलाई 19, 2020, 20:08 IST

जिला गुना के थाना फतेहगढ़ अंतर्गत ग्राम बीलखेड़ा एवं डोबरा में वन क्षेत्र स्थित है, जहाँ भील पक्ष तथा फारूख एवं अन्य कृषक पक्षों के कुछ लोगों द्वारा वनभूमि पर अवैध कब्जे का प्रयास किया जा रहा है। फतेहगढ़ के ग्राम बीलखेड़ा एवं डोबरा में करीबन 50 बीघा वनभूमि पर कब्जे को लेकर दो समुदाय के कुछ लोगों के बीच 19 जुलाई 2020 को दोपहर करीब 12 बजे विवाद की स्थिति निर्मित हुई है, जिसमें भील पक्ष तथा फारूख एवं अन्य कृषक पक्षों की ओर से एक दूसरे पर पत्थर फेंके गये।

विवाद की सूचना प्राप्त होने पर तत्काल थाना प्रभारी फतेहगढ़ उपलब्ध बल के साथ घटनास्थल पहुँचे और दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया और विवाद नहीं करने की हिदायत दी गई। किन्तु, दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पत्थर फेंकना बंद नहीं किये। इसे देखते हुए विवाद पर नियंत्रण करने तथा कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से थाना प्रभारी द्वारा आवश्यक कदम उठाए जाने पर लोग घटना स्थल से भाग गए। घटना की सूचना मिलने पर वन विभाग के रैंजर श्री राघवेन्द्र सिंह भदौरिया एवं अन्य वन कर्मचारी भी मौके पर पहुँचे।

घटना की जानकारी मिलते ही कलेक्टर श्री कुमार पुरूषोत्तम एवं पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुमार सिंह ने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश संबंधितों को दिए।

कलेक्टर द्वारा वन विभाग को वनभूमि क्षेत्र की सरहदबंदी करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने पुलिस बल तैनात करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि वनभूमि के कब्जे को लेकर हुए उक्त विवाद में दोनों पक्षों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज की गयी है।

जिला पुलिस कार्यालय से प्राप्त उक्ताशय की जानकारी अनुसार घटना में करीबन 7 लोगों को पत्थर लगने से चोटें आना बताया है। उक्त लोग अभी थाने पर उपस्थित नही हुये हैं। उनके उपस्थित होने पर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

घटना के संबंध में आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। क्षेत्र में घटनास्थल पर आवश्यक सतर्कता एवं सुरक्षा के लिये बल तैनात किया गया है। विवाद समाप्त किया गया है, अब शांति है।


श्रवण सिंह/अशोक द्विवेदी



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here