वन क्षेत्रों में बाँस रोपण परियोजना प्रारंभ

0
167
205 Views



वन क्षेत्रों में बाँस रोपण परियोजना प्रारंभ


इस वर्ष 5 जिलों के 1100 हेक्टेयर वन क्षेत्र में होगा बाँस रोपण 


भोपाल : शुक्रवार, जून 12, 2020, 17:58 IST

राज्य शासन द्वारा बिगड़े वन क्षेत्रों के आसपास रहने वाले ग्रामीण परिवारों को कम समय में रोजगार दिलाने, दीर्घ अवधि में आजीविका सुदृढ़ करने और वन आवरण में वृद्धि के उद्देश्य से बाँस रोपण की विशेष परियोजना आरंभ की गई है। मनरेगा के तहत प्रदेश के 5 जिलों जबलपुर, मण्डला, सिवनी, छिंदवाड़ा और बैतूल के 11 वन मण्डलों में योजना का क्रियान्वयन और प्रबंधन किया जायेगा। परियोजना में इस वर्ष 1100 हेक्टेयर वन क्षेत्र में बाँस रोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

निर्धन परिवारों को मिलेगा रोजगार

योजना के पहले 5 सालों तक निर्धन परिवार सुनिश्चित रोजगार प्राप्त करेंगे। ये परिवार बाँस के रोपणों का प्रबंधन और सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे। छठवें वर्ष से बाँस का उत्पादन शुरू होने पर स्व-सहायता समूह के साथ हिस्सेदारी कर प्रबंधन को प्रभावी बनाया जायेगा।

ग्राम वन समिति – स्व-सहायता समूहों की होगी महत्वपूर्ण भूमिका

प्रदेश में जहाँ बाँस रोपण के लिये उपयुक्त वन भूमि है, वहाँ पर रोपण किया जायेगा। रोपण में संयुक्त वन प्रबंधन के तहत गठित ग्राम वन समितियों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। साथ ही, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित स्व-सहायता समूहों को प्रबंधन में भागीदार बनाकर बाँस के उत्पादक रोपण तैयार किये जायेंगे।

वन विभाग होगा मुख्य क्रियान्वयन एजेंसी

बाँस रोपण परियोजना के क्रियान्वयन और प्रबंधन के लिये वन विभाग मुख्य क्रियान्वयन एजेंसी के रूप में कार्य करेगा। विभाग द्वारा सम्पूर्ण तकनीकी परीक्षण करने के साथ ही ग्राम सभा द्वारा अनुमोदित स्व-सहायता समूहों के माध्यम से प्रभावी प्रबंधन सुनिश्चित किया जायेगा।


सुनीता दुबे



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here