शांति यादव बनी जनपरिषद की संभागीय सचिव

0
248
351 Views

अंतरास्ट्रीय सामाजिक संस्था जनपरिषद के चेयरमैन श्री एन .के . त्रिपाठी भोपाल ने शांति यादव के द्वारा निरन्तर किये जा रहे उत्कृष्ठ कार्यों को देखते हुए वर्तमान पद (अध्यक्ष) के साथ साथ जनपरिषद का संभग्गीय सचिव पद से सम्मानित (नियुक्त) किया है।संभागीय सचिव बनाये जाने पर जनपरिषद कैमोर के सभी पदाधिकारीगण सहित नगर के गणमान्यजनों ने शांति यादव को बधाई प्रेषित की है।

शांति यादव भाजपा महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष के अलावा पूर्व पार्षद,मानवीय चेतना अभ्युदय समिति की कोषाध्यक्ष एवं अंतरास्ट्रीय सामाजिक संस्था जनपरिषद कैमोर की अध्यक्ष हैँ,शांति यादव तीनों ही संघठनो के माध्यम सामाजिक कार्य, महिलाओं के बेहतरी के लिये कार्य,नगर विकास के लिये कार्य एवं भाजपा पार्टी हित मे निरन्तर कार्य करती आ रही हैं। इनके नेतृत्व में महिला मोर्चा की टीम ने पार्टि हित में आन लाइन सदस्यता अभियान में बढ़ चढ़ कर कार्य किया था,कांग्रेस समर्पित लगभग 2200 से (बाइस सौ) से ज्यादा लोगों की सदस्यता कराई थी।स्वम शांति यादव ने 532 आन लाइन सदस्यता कराई ,लोकसभा एवं विधानसभा में इनके नेतृत्व में महिलाओं ने भी अपनी अहम भूमिका निभाई थी , भाजपा संघठन द्वारा इनके सराहनीय कार्यों की हमेशा सराहना की गई, इन्होंने कैमोर की महिलाओं को घर से बाहर सामाजिक कार्यों में निकलने के लिये प्रेरित किया।कैमोर में शांति यादव अपनी निरन्तर सामाजिक सेवा से उत्कृष्ठ कार्य करने वाली समाज सेविका (महिला शक्ति)का लोहा मनवा चुकी हैं।शांति यादव जी के सामाजिक कार्यों की फेहरिस्त काफी लंबी है।जिनमे उनके चुनिंदा कार्यों ने यह साबित कर दिया, कि महिलाएं अगर कुछ ठान लें तो उसे पूरा करके ही दम लेती हैं और यही कर दिखाया शांति यादव जी ने, जिन्होंने शादी होने के बाद पति के अत्याचारों से तंग आकर पति को त्याग कर अपने माता पिता के पास विगत 15 वर्षों से रह रहीं हैं।शांति यादव सन 2014 में वार्ड नं 11 से भाजपा से पार्षद भी रह चुकी हैं ,जिसमे इन्होंने सभी वार्डों में सर्वाधिक वोटों से दूसरे नम्बर पर जीत हासिल की।सबसे महत्वपूर्ण बात ये रही,कि इन्होंने अपने पूरे 5 वर्ष के पार्षद मानदेय को भी सामाजिक कार्यों में लगाया।जैसे किसी गरीब परिवार में गमी होने पर संस्कार में मदद एवं गरीब कन्या के विवाह में मानदेय दान किया। शांति यादव एक संघर्षशील महिला हैं जो परिवार के संस्कारों और अपने बलबूते पर घर की दहलीज से बाहर निकलकर संस्कारों के साथ जो मानव सेवा के कार्य किये हैं वह अविस्मरणीय हैं। शांति यादव वार्डवासियों की समस्याओं को सम्बंधित विभाग तक पहुँचा कर समस्याओं के निराकरण करने के लिये अथक प्रयास करती हैं।इन्होंने कैमोर के लगभग 70 से ज्यादा गरीब गंभीर बीमारियों से ग्रसित थे ,उनका इलाज छेत्र के विधायक संजय पाठक जी के माध्यम से इलाज करा चुकी हैं एवं अन्य वार्डो में भी विकास कार्यों के लिये प्रयास कर कार्य करा चुकी है एवं अभी भी कई कार्यों हेतु प्रयासरत हैं। वार्ड नं 12 का मुक्तिधाम के जीर्णोंद्धार में इन्होंने अथक प्रयास कर अपनी अहम भूमिका का निर्वाह करके नगर परिषद से सभी सुविधाएं कराई।और कैमोर की मुख्य सड़क जो एसीसी के स्वामित्व में है, जर्जर सड़क का मुद्दा भी इन्होंने समस्त अधिकारियों सहित छेत्र के विधायक संजय सतेंद्र पाठक जी को भी अवगत कराया था जिसे विधायक ने संज्ञान में लेकर सड़क निर्माण कार्य एसीसी से कहकर प्रारंभ कराया।यही नही बल्कि इन्होंने मानव जीवन को बचाने कोरोना काल मे लॉक डाउन के दौरान पीड़ित मानवता के सेवार्थ गरीब बस्तियों में जाकर अपने ही हाथों से मास्क एवं अनाज निःशुल्क बांटे थे एवं कोरोना से बचाव के उपाय बताकर जागरूक किया।केंद्र एवं राज्य शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं को जन जन तक पहुचाने का कार्य करती आ रही हैं।जिसके माध्यम से जरूरतमंदों को योजनाओं का लाभ मिल रहा है,यही नही बल्कि इन्होंने पात्र हितग्राहियों के अब तक निःशुल्क लगभग 800 आयुषमान कार्ड शिविर लगाकर बनवा चुकी हैं और वर्तमान में भी आयुषमान कार्ड वार्डों में जाकर बनवा रही हैं।यही नही बल्कि इन्होंने कैमोर अंतर्गत रह रहे 17 दिव्यांगों को अपने स्वम् से वाहन की व्यवस्था कर शासन द्वारा लगाए गए शिविर में ले जाकर मेडिकल जांच कराकर प्रमाण पत्र दिलवाए, आने वाले दिनों में उन सभी दिव्यांगों को लाभ मिल सकेगा।इस तरह वे दिव्यांगों एवं जरूरतमंदों की सेवा में जुटी रहती हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here