Apple WWDC 2018 का आगाज़ आज, ये हैं उम्मीदें और ऐसे देखें लाइव स्ट्रीम

0
171
215 Views


Apple का सालाना आयोजन वर्ल्ड डिवेलपर कॉन्फ्रेंस (WWDC) सोमवार से शुरू हो रहा है। यहां आईफोन, मैक, ऐप्पल वॉच और अन्य डिवाइसेज के लिए आगामी सॉफ्टवेयर का ऐलान किया जाएगा। WWDC 2018 सोमवार से शुरू होकर 8 जून तक चलेगा। इसमें सारी घोषणाओं को लाइव देखने के लिए आप लाइव स्ट्रीमिंग का सहारा ले सकते हैं। WWDC 2018 में सॉफ्टवेयर के साथ-साथ iPhone SE 2 आने की भी चर्चा है। दिलचस्प बात यह है कि इसमें फोन टू फोन एआर एक्सपीरियंस, सिरी इंप्रूवमेंट और आईफोन और मैक के लिए ऐप के सिंगल सेट से पर्दा उठाया जा सकता है।
 

यहां लाइव देखें  WWDC 2018

WWDC 2018 भारतीय समयानुसार रात साढ़े 10 बजे शुरू होगा। पिचले साल की तरह,  WWDC 2018 देखने के लिए आपके पास ऐप्पल का डिवाइस होना अनिवार्य है। जिनके पास आईओएस 10 व इससे ऊपर का iPhone, iPad, iPod touch या मैक कम्प्यूटर है, तो सफारी के ज़रिए इवेंट को आधिकारिक वेबसाइट पर देख पाएंगे। अगर आपके पास पहले, दूसरे व चौथे जेनरेशन वाला ऐप्पल टीवी है, तो इवेंट को ऐप्पल इवेंट्स चैनल पर देख सकते हैं। विंडोज़ यूज़र WWDC 2018 को माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउज़र की मदद से देख सकते हैं।
 

WWDC 2018 से उम्मीदें – आईओएस 12, इंप्रूव्ड सिरी और भी बहुत कुछ

आईओएस 12 को लेकर कहा जा रहा है कि यह WWDC 2018 का प्रमुख आकर्षण हो सकता है। आईओएस 12 अपडेट डिवाइस की परफॉरमेंस में सुधार के लिए लाया जाएगा। इसमें एनएफसी क्षमताएं, डिजिटल हेल्थ टूल जैसे विकल्प होंगे, जिससे यूज़र यह जान सकेंगे कि वे कितना समय फोन पर खर्च करते हैं। साथ ही एआर भी प्रमुख फीचर है, जिसके आने की चर्चा तेज़ है। इसमें दो यूज़र एक साथ गेम खेल पाएंगे और समान वर्चुअल माहौल में सूचना साझा कर पाएंगे।

जानकारों का मानना है कि ऐप्पल अपने वर्चुअल असिस्टेंट सिरी को और बहेतर करने की दिशा में एआई व अन्य फीचर से लैस कर सकता है। कंपनी इन फीचर के साथ गूगल और अमेज़न के डिजिटल असिस्टेंट से टक्कर लेना चाहेगी। ऐप्पल होमपॉड में भी सुधार कर सकती है। साथ ही हेल्थ और असिस्ट ऐप पर ध्यान दे सकते ही।

हार्डवेयर की बात करें तो मैक बुक प्रो के अपग्रेडिड वर्ज़न के आने की उम्मीद है। साथ ही iPhone SE 2 के आने की चर्चाएं तेज़ हैं। कंपनी एयरपावर नाम के वायरलेस चार्जिंग पैड ला सकती है, जिनकी घोषणा पिछले साल हुई थी। बता दें कि आईफोन के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट आम तौर पर सितंबर में दस्तक देते रहे हैं। इससे पहले कंपनी नए फोन उतारने को प्राथमिकता देती रही है।



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here