BSNL और MTNL अब नही होंगे बंद,महमूद अहमद होंगे MTNL के बोर्ड निदेशक

0
222
341 Views

केंद्र सरकार ने टेलीकॉम विभाग के लाइसेंसिंग फाइनेंस एसेसमेंट के उप महानिदेशक महमूद अहमद को मंत्रालय के अधीन सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम एमटीएनएल के बोर्ड में अपना मनोनीत निदेशक नियुक्त किया है। एक आधिकारिक आदेश के अनुसार, उन्हें तीन साल के लिए या सेवानिवृत्ति तक नियुक्त किया गया है।
केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पिछले साल अक्टूबर में घोषित रिवाइवल पैकेज के हिस्से के तौर पर एमटीएनएल का बीएसएनएल के साथ विलय होना तय हो गया है तबतक एमटीएनएल बीएसएनएल की सहायक कंपनी के तौर पर काम करती रहेगी। एमटीएनएल सूचीबद्ध है, लेकिन इसकी सकल संपत्ति पहले से ही खत्म हो चुकी है। बीएसएनएल सूचीबद्ध नहीं है।मंत्रिमंडल द्वारा एमटीएनएल के बीएसएनएल में विलय को सैद्धांतिक मंजूरी देने के बाद एमटीएनएल में सरकार की हिस्सेदारी स्थानांतरित करने के बाद एमटीएनएल को पिछले साल नवंबर में बीएसएनएल की सहायक कंपनी बनाने के लिए डीओटी की मंजूरी मिल गई थी। अगले वित्त वर्ष में औपचारिक घोषणा के साथ बीएसएनएल और एमटीएनएल का विलय हो जाएगा। एमटीएनएल में सरकार की 56.25 प्रतिशत हिस्सेदारी है।
बंद नही होगा MTNL
आपको बता दें कि MTNL की बंदी को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन सरकार ने साफ कर दिया था कि MTNL और BSNL ब्ंद नही होगा। केंद्रीय संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने राज्यसभा में स्पष्ट किया था कि हमारी सरकार बीएसएनएल और एमटीएनएल को स्ट्रेटजिक एसेट्स मानती है। दोनों संस्था दिक्कत में थे, लेकिन हम इन्हें रिवाइव करेंगे। सरकार इनमें हजारों करोड़ रुपए लगा रही है और इन्हें ठीक करेंगे। इसलिए दुविधा नहीं होनी चाहिए कि बीएसएनएल-एमटीएनएल बंद होंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here